Category Archives: HINDI POEM

ख्वाहिश न करो आसमान छूने की

Motivational poem hindi khwahish na karo Aasman chune ki




ख्वाहिश न करो आसमान छूने  की
कुश ऐसा करो कि
झुक जाये आसमां भी
देखकर काबिलियत आपकी

दिल से चाह हो कुश पाने की
पास आएगी हर वो शोहरत तुम्हारा होने की

रूठ जाये गर मंज़िल 
तो हमसफ़र राह बना लेना

Khwahishein kam ho

कौन अपना कौन पराया है
सफ़र में हिसाब किताब लगा लेना

ये ज़िंदगी हर बार वफ़ा नहीं करती 
किस्मत की किताब को संदूक में ही छुपा देना

बदलते खयालो की चिंगारी से जल न जाये हौसले
उमीदो की रोशनी से हर आस जलाये रखना 




Zindag hindi Poetry

Zindag hindi Poetry 1




ठोकर खाकर भी चलना पड़ता है
ज़िंदगी  है जीना पड़ता है

मुश्किलें तो आती है राहों में
उनपे विजय पाकर ही आगे बढ़ना पड़ता है

हर ख्वाहिश पूरी नहीं होती
कुश पाने के लिए कुश खोना पड़ता है

रोज नयी आशाएं पैदा होती है मन में
कभी  तो जीवन ही ख्वाबो जा शहर बन जाता है

राह सीधी हो तो चला जा सकता है आसानी से
असली मजा तो टेड़ी मेड़ी राहो पर ही आता है

कभी ख़ुशी तो कभी गम का स्वाद चखना पड़ता है
ज़िंदगी है जीना पड़ता है

*****************************




Zindag hindi Poetry 2

इच्छाओ को एक तरफ़ रख दो
खुद को जिने का हक़ दो

उड़ना चाहती है ज़िंदगी
उस सके जहा वो फलक दो

मन की चंचलता में अब न घिसा जायेंगा
जीवन की दिशा में लक्ष्य एक भेद दो

अनंत प्राण नहीं राही है यहाँ हम
पैर चले जिनपे वो सही पग दो

बेरंग सी हो गयी है ज़िंदगी
उमंग और ख़ुशी के रंग से भर दो

बहुत वजह मिली जीने के लिए
फिर  भी रास न आयी ज़िंदगी
अब खुद को  बेवजह जीने का एक अवसर दो

दर्द की दासता जिंदगी- हिंदी कविता

दर्द की दासता जिंदगी -हिंदी कविता 

बात अगर ज़िन्दगी जी करे तो रफ़्तार धीमी है
सालो से चलती आ रही है पर
मंजिल से अब भी बेगानी है
मुश्किलों से जुझती आ रही है
मुसीबते आज भी दुगुनी है
आसमां के ख्वाब देखती रही
पैरो तले आज भी ज़मीन है
पूछे कोई सवाल तो
होठो पे ख़ामोशी आँखों में नमी है
ये कैसी है ज़िन्दगी
जो लगती ज़िन्दगी नहीं है
दर्द की दासता है
पर ख़ुशी नहीं है



ज़िंदगी में कुश नया जरुरी है – Hindi kavita zindagi

ज़िंदगी में कुश नया जरुरी है- Hindi kavita zindagi

Hindi kavita zindagi image hindi shayari

 




ज़िंदगी में कुश नया जरुरी है
रात के बाद सवेरा जरुरी है

मिलते है लोग किसी वजह से
कभी बेवजह मिलना भी जरुरी है

ख़ुशी के लिये कमाते है लोग
सच तो ये है
अच्छे काम के लिए खुश रहना  जरुरी है

डॉक्टरों के चिकित्सालय खचाखच भरे है
एक के पीछे दस मरीज खड़े है

अपने अंदर ही हर खुशी का समंदर है
न जाने क्यों लोग पैसो के पीछे दौड़ पड़े है

कितने अजीब है ये दुनिया की लोग
जिसकी कोई कीमत नहीं
उस ख़ुशी को पाने के लिए धन जुटा रहे है




 

**********************************

Search- hindi kavita zindagi, new hindi kavita zindagi

Related Post

Best Shayari collection on zindagi

थोड़ा रुककर चल-ज़िंदगी – हिंदी कविता ज़िंदगी

Zindagi ka safar – Hindi motivational poem

में ज़िंदगी से ज़िंदगी मुझसे प्यार करती है

Zindagi kah du

 

Heart Touching Love Poem for her in Hindi Font

Love poem Heart touching love poems for her best heart touching love poem hindi , beautiful heart touching love poem for True lovers




 

Heart Touching Love Poem for her in Hindi Font

शाम से पहले आ जाना

दिल लेकर जा रहे हो

दिल देने आना

Continue reading

तन्हाई अक्सर अच्छी नहीं लगती

Tanhai Poem in hindi





 

 

तन्हाई शायरी फोटो

तन्हाई अक्सर अच्छी नहीं लगती

सिर्फ यादो के सहारे ज़िंदगी नहीं चलती

ये अधूरापन तोड़ता है हौसले दिल के
रोज रोज ये तबाही अच्छी नहीं लगती

राहे तो मिली चलने के लिये
सफ़र में साथ चल रही तन्हाई

न कोई हँसाये न कोई रुलाये
किस्मत ये बेवफाई अच्छी नहीं लगती

सजा रखा है दिल को अरमानो की रोशनी से
कोई न आयेंगा यहाँ ये सच्चाई अच्छी नहीं लगती

मिल जाता है कोई घडी दो घडी चलते चलते
इस मिलन के बाद ये जुदाई अच्छी नहीं लगती

कुश पल रहे मेहमान बनकर तो शिकवा नहीं
यु ज़िंदगी का हिस्सा बनना
हरकत ये अच्छी नहीं लगती
अक्सर तन्हाई अच्छी नहीं लगती



Writre your comment on tanhai poem in hindi