Monthly Archives: December 2015

नया साल खुशियो की बहार लाये

नया साल खुशियो की बहार लाये
सबके दिलो में प्यार लाये
गरीब की झोपड़ी में जले चिराग
दुआ करता हु आज
हम सब की तरह
वे भी नया साल मनाये

हैप्पी न्यू इयर शायरी

मुश्किल है ज़िन्दगी जीना

आसान नहीं किसी भी दर्द को सहना

ज़रूरी हो जब हर हाल में जीना

तो क्यों न  सीखे खुश होकर जीना

 

☺मेरा पाठको से ये निवेदन करता हु कि

इस नए साल अपनी ज़िन्दगी के सरे गम भूलकर

एक नयी ज़िन्दगी कि शुरुआत करे😊

👌हैप्पी न्यू इयर👍
हैप्पी न्यू इयर शायरी
 

 

new year shayari – Nav varsh ki shubhkamnaye

मंगलमय हो नया साल आपका

खुशियों से भरा हो नया साल आपका

और कुश न चाहता हु में

सफल हो जीवन आपका 

🎂नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाए🎂 Continue reading

Kahi ye shayari to nahi

Kahi ye shayari to nahi





Me Jo likh raha hu kahi ye shayari to nahi

Dil ki bat rakhi hai mene panno pe

In Ialfazo me kahani hamari to nahi

Jara dil se samzo yaro

Kahi kahani ye tumhari to nahi

Ishq ke dariya me kho gayi kayi kashtiyaan

Is dariya me utre kahi tum bhi to nahi

Girte zarne hue hai lapata 

Ishq ki rah me bhatke kahi tum bhi to nahi

Kalam hui hai diwani alfaaz hue hai jajbati

MilKar dono bane hai diya aur bati

Ishq ki ye mahamari to nahi 

Me jo likh raha hu kahi ye shayari to nahi